Home » Quotes » अपनी बिगड़ी तकदीर को बना सकता है तू
  1. Home
  2. Quotes
  3. अपनी बिगड़ी तकदीर को बना सकता है तू

अपनी बिगड़ी तकदीर को बना सकता है तू,
बहती हुई धारा में अपनी कश्ती बचा सकता है तू;
हो चाहे तूफ़ान ही तूफान चारों ओर पर,
कश्ती किनारे पर ला सकता है तू |


- संत श्री अल्पा माँ


Share
अपनी बिगड़ी तकदीर को बना सकता है तू,
बहती हुई धारा में अपनी कश्ती बचा सकता है तू;
हो चाहे तूफ़ान ही तूफान चारों ओर पर,
कश्ती किनारे पर ला सकता है तू |
अपनी बिगड़ी तकदीर को बना सकता है तू https://www.mydivinelove.org/quotes/detail.aspx?title=apani-bigai-takadira-ko-bana-sakata-hai-tu