Home » All Hymns » सहे है तुमने हमारे सारे सितम हँसकर, के दिल को इसका एहसास हो रहा है
  1. Home
  2. All Hymns
  3. सहे है तुमने हमारे सारे सितम हँसकर, के दिल को इसका एहसास हो रहा है
Hymn No. 2723 | Date: 20-Sep-19981998-09-20सहे है तुमने हमारे सारे सितम हँसकर, के दिल को इसका एहसास हो रहा हैhttps://www.mydivinelove.org/bhajan/?title=sahe-hai-tumane-hamare-sare-sitama-hansakara-ke-dila-ko-isaka-ehasasaसहे है तुमने हमारे सारे सितम हँसकर, के दिल को इसका एहसास हो रहा है,
ढाए है हमने क्या-क्या सितम, आज इसका एहसास हो रहा है ।
कभी ना कहा तुमने हमसे के हमने जो संग तेरे व्यवहार किया है ।
सहा सबकुछ बड़े प्यार से, ना होठों पर कभी जिक्र आने दिया है ।
ना की कोई फरियाद, ना ही कोई गिला किया है, एहसास इसका हो रहा है ।
तोड़ा दिल हमने कई बार तेरा फिर भी कभी तुमने अपना दर्द ना दिखाया है ।
कभी ठुकराया तुझे, कभी अपनाया, पर तेरा प्यार तो वह ही रहा है ।
ना आया फर्क तेरे प्यार में, के इस बात का एहसास आज हो रहा है ।
हमारे हर गुनाह तो माफ करके तुमने हमें बड़े प्यार से अपनाया है ।
ऐ खुदा तेरी इसी अदा ने आज हमारे दिल में दीवानगी का असर जगाया है ।
Text Size
सहे है तुमने हमारे सारे सितम हँसकर, के दिल को इसका एहसास हो रहा है
सहे है तुमने हमारे सारे सितम हँसकर, के दिल को इसका एहसास हो रहा है,
ढाए है हमने क्या-क्या सितम, आज इसका एहसास हो रहा है ।
कभी ना कहा तुमने हमसे के हमने जो संग तेरे व्यवहार किया है ।
सहा सबकुछ बड़े प्यार से, ना होठों पर कभी जिक्र आने दिया है ।
ना की कोई फरियाद, ना ही कोई गिला किया है, एहसास इसका हो रहा है ।
तोड़ा दिल हमने कई बार तेरा फिर भी कभी तुमने अपना दर्द ना दिखाया है ।
कभी ठुकराया तुझे, कभी अपनाया, पर तेरा प्यार तो वह ही रहा है ।
ना आया फर्क तेरे प्यार में, के इस बात का एहसास आज हो रहा है ।
हमारे हर गुनाह तो माफ करके तुमने हमें बड़े प्यार से अपनाया है ।
ऐ खुदा तेरी इसी अदा ने आज हमारे दिल में दीवानगी का असर जगाया है ।